Skip to main content
2015 Years of Soil Swachhta Bharat Mission Make in India 150 years of celebrating the Mahatma Skoch Gold Award Digital India Award

रामगुंडम फर्टिलाइजर्स एंड केमिकल्स लिमिटेड

रामागुंडम पुनरुद्धार परियोजना  

2,200 एमटीपीडी अमोनिया इकाई तथा 3,850 एमटीपीडी यूरिया संयंत्र क्षमता के साथ क्रमश 26%, 26% तथा 11% साम्‍या हिस्‍सेदारी के साथ गैस आधारित यूरिया संयंत्र स्‍थापित करने के लिए पीएसयू नामत: मैसर्स इंजीनियर्स इंडिया लिमिटेड (ईआईएल) मैसर्स नेशनल फर्टिलाइजर्स लिमिटेड (एनएफएल) तथा एफसीआईएल के परिसंघ द्वारा ‘नामांकन मार्ग’ के जरिए एफसीआईएल की रामागुंडम इकाई का पुनरुद्धार किया जा रहा है।

संयुक्‍त उद्यम समझौते पर 14.01.2015 को हस्‍ताक्षर किए गए। 

‘रामागुंडम फर्टिलाइजर्स एण्‍ड केमिकल्‍स लिमिटेड नाम से जेवी कंपनी 17.02.2015 को निगमित की गई थी।

जेवी कंपनी संयंत्र को प्रचालित करेगा तथा ईआईएल संयंत्र के उपकरणों तथा निर्माण (ईपीसी) के विस्‍तृत इंजीनियरिंग खरीद को देखेगा।

शेष साम्‍या टाई-अप (26%) के लिए गेल तथा एचटीएएस परिसंघ के साथ विचार-विमर्श अग्रिम स्‍तर पर है।

पाइपलाइन बिछाने के लिए मैसर्स कल्‍पतरु को संविदा प्रदान की गई। कम्‍प्रेसरों को किराए पर लेने के लिए जीआईटीएल द्वारा सितम्‍बर 18 तक कार्यों को पूरा करने के लिए मैसर्स किरलोसकर नियू‍मेटिक लि. को एलओए जारी किया गया कार्यकलाप समय सूची के अनुसार किए जा रहे हैं।

आरसीएफ द्वारा गेल के साथ 17 नवम्‍बर, 2017 को गैस आपूर्ति समझौते पर हस्‍ताक्षर किए गए।  

जल एवं ऊर्जा कनेक्‍टिविटी का निष्‍पादन राज्‍य सरकार द्वारा अपने खर्च पर किया जा रहा है। अप्रैल 18 तक पूरा किया जाने का लक्ष्‍य है। कार्यकलाप समय सूची के अनुसार किए जा रहे है।

दिसम्‍बर 2018 तक परियोजना शुरू किए जाने का लक्ष्‍य है।