Skip to main content
2015 Years of Soil Swachhta Bharat Mission Make in India 150 years of celebrating the Mahatma Skoch Gold Award Digital India Award

आर्थिक एवं सांख्यिकी

आर्थिक सलाहकार आर्थिक एवं सांख्यिकी विंग के अध्‍यक्ष हैं। वे विभिन्‍न आर्थिक मामलों पर विभाग को परामर्श देते हैं। शाखा द्वारा देखे जाने वाले अन्‍य विषयों में शामिल हैं: विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परियोजनाएं: संतुलित उर्वरकों: मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड आदि से संबंधित मामले: नवीकरण और गैर नवीकरणीय ऊर्जा संबंधी विषय: स्‍वच्‍छ प्रौद्योगिकी तथा सामान्‍य पर्यावरण के मुद्दे पीएसयूज की तिमाही समीक्षा बैठकें विभिन्‍न राजसहायता प्राप्‍त पीएण्‍डके उर्वरकों के लिए पीएण्‍डके उर्वरक कंपनियों के एमआरपी डाटा का समेकन।

यह शाखा आयतित पीएण्‍डके उर्वरकों के तैयार उर्वरक तथा स्‍वदेशी उत्‍पादन लागत के एफएमबी मूल्‍यों के समेकन का कार्य भी देखता है।      

आर्थिक एवं सांख्यिकी शाखा विभिन्‍न उर्वरक के उत्‍पादन डाटा तैयार करता है तथा दो-स्‍तरीय अनापत्ति प्रक्रिया के आधार पर मौजूदा उर्वरक संयंत्रों के नवीकरण/आधुनिकीकरण/पुनरुत्‍थान हेतु परियोजना आदानों हेतु तकनीकी-आर्थिक अनापत्ति (टीईसी) भी प्रदान करता है।

यह शाखा विशिष्‍ट नीतिगत मुद्दे पर सहायता के लिए आर्थिक विश्‍लेषण भी प्रदान करती है।

इसके अतिरिक्‍त, आर्थिक सलाहकार विभिन्‍न आपूर्ति/मांग उर्वरकों/कच्‍ची सामग्रियों/मध्‍यवर्तियों के मूल्‍यों के पूर्वानुमान पर परामर्श देते है।

वह उर्वरक विभाग के कौशल विकास गतिविधियों के नोडल अधिकारी भी है। आर्थिक सलाहकार की सहायता के लिए निदेशक ईएण्‍डएस हैं।

शाखा के दो प्रभाग है:-

  • उत्‍पादन तथा आदान (पीएण्‍डआई)
  • मानीटरिंग एवं मूल्‍याकंन (एमएण्‍डई)