तलचर फर्टिलाइजर लिमिटेड

तलचर पुनरुद्धार परियोजना 

 

सीसीईए ने दिनांक 04.08.2011 को आयोजित अपनी बैठक में नामित पीएसयूज यथा गेल, आरसीएफ सीआईएल तथा एफसीआईएल के संयुक्‍त उद्यम का गठन कर नामांकन मार्ग के माध्‍यम से फर्टिलाइजर कारपोरेशन ऑफ इंडिया (एफसीआईएल) की बंद पड़ी तलचर इकाई के पुनरुद्धार को अनुमोदित किया है। कोयला गैसीकरण प्रौद्योगिकी पर आधारित 1.27 एमएमटीपीए क्षमता के नए अमोनिया यूरिया संयंत्र स्‍थापित कर तलचर इकाई का पुनरुद्धार किया जा रहा है। तदनुसार, तलचर फर्टिलाइजर्स लि. (टीएफएल) नामक जेवी कंपनी गठित की गई है। गेल, आरसीएफ तथा सीआईएल प्रत्‍येक की टीएफएल में साम्‍या 29.67% तथा एफसीआईएल की 10.99% है।   

 

अब तक की गई प्रगति

 

  1. ओडिशा सरकार ने एफसीआईएल की तलचर भूमि तलचर फर्टिलाइजर्स लि. को उप पट्टे पर देने की स्‍वीकृति प्रदान की है।
  2. कोयला गैसीकरण प्रणाली फरवरी 2017 में स्‍वीकृत की गई थी।
  3. कैप्टिव कोयला खान 27.09.2017 को आवटित हुई। एमओसी के साथ समझौता प्रगति पर है।
  4. सैवृन्तिक रूप से ब्रिज सम्‍पर्क कोयला टीएफएल को 22.03.2017 को आवंटित किया गया।
  5. पाराद्वीप रिफाइनरी से पेट कोक की आपूर्ति हेतु आईओसीएल के साथ 10.08.2017 को समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर किए गए।
  6. 18.10.2017 को परियोजना के लिए पर्यावरणीय अनापत्ति की सिफारिश की गई।
  7. टीएफएल के बोर्ड द्वारा 10.11.2017 को डीएफआर परियोजना अनुमोदित की गई।  
  8. टीएफएल के बोर्ड द्वारा डीएफआर परियोजना का वित्‍तीय मूल्‍याकंन अनुमोदित किया गया।
  9. परियोजना रिपोर्ट हेतु कैप्टिव कोयला खान विकास हेतु सीएमपीडीआई को कार्यादेश जारी किया गया।
  10. स्‍थल तैयार करने का कार्य 18.09.2017 को शुरू किया गया।